मुझे भी कुछ कहना है

विचारों की अभिव्यक्ति

46 Posts

1665 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1876 postid : 1083

क्या आप एक अच्छा ब्लॉग लिखना चाहते हैं-भाग २ (लेख)

Posted On: 14 Jul, 2010 Others,टेक्नोलोजी टी टी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अक्सर ही ब्लॉग लिखते समय ब्लॉग के फॉर्मेट को लेकर हमें कई समस्याओं से दो-चार होना पड़ता है…. कई बार हम अपनी पोस्ट के फॉण्ट साइज़ को लेकर परेशान होते है, तो कई बार अपने मनचाहे रंगों का प्रयोग ना कर पाने का मलाल मन में रह जाता है….. कुछ दिनों पहले ही हम अपनी पोस्ट पर आई प्रतिक्रियाओं का जवाब दे रहे थे तो देखा कि इस मंच के काफी पुराने सदस्यों ने हमसे जानना चाह कि

  1. हम अपने पोस्ट के फॉण्ट साइज़ को कैसे बढ़ा सकते हैं?

  2. हम अपने पोस्ट में अलग-अलग रंगों का प्रयोग कैसे कर सकते हैं?

इन सवालों को पढ़कर हमारे मन में ये विचार आया कि जब पुराने सदस्यों को इस बारे में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है तो शायद नए सदस्य भी इससे दो-चार हो रहें होंगे और संकोचवश किसी से पूछ ना पा रहे हों… बस यहीं से जन्म लेती है हमारी ये पोस्ट…

इसी विषय से सम्बंधित हमारी एक पोस्ट “क्या आप एक अच्छा ब्लॉग लिखना चाहते हैं” में हमने जाना था कि हिंदी में ब्लॉग कैसे लिखे तथा ब्लॉग लिखते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें…. इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए हम आज चर्चा करेंगे कि ब्लॉग लिखने के बाद और उसे पोस्ट करने से पहले हम अलग-अलग टूल का प्रयोग कर पोस्ट को किस तरह रोचक और अधिक पठनीय बना सकते हैं…. तो आइये एक-एक कर के सभी चीज़े समझते हैं… ….

हिंदी में ब्लॉग कैसे लिखे

हिंदी में ब्लॉग लिखना बहुत ही आसान हैं… आप डेशबोर्ड में जाकर “न्यू पोस्ट” आप्शन पर क्लिक करें… HTML आप्शन चुन कर टाइप करें, ध्यान रखें कि विंडो में नीचे दिया “Type in Hindi” आप्शन क्लिक हो…. इसी तरह किसी की पोस्ट पर भी हिंदी में प्रतिक्रिया देने के लिए Hinglish का आप्शन चुने और अब आप जो भी टाइप करेंगे वो स्क्रीन पर हिंदी में दिखाई देगा…. उदाहरण के लिए अगर आप “aap” टाइप करेंगे तो वह स्क्रीन पर हिंदी में “आप” दिखेगा….

अपनी पोस्ट में चित्र कैसे लगायें

आप अपनी पोस्ट में विषय से सम्बंधित फोटो लगाना चाहते हैं तो सबसे पहले उस फोटो को अपने कंप्यूटर पर कही save कर लें…. फिर सबसे ऊपर की ओर दिए गए add an image आप्शन का प्रयोग कर उस फोटो को अपनी पोस्ट में लगा सकते हैं….

इसी तरह HTML आप्शन में ऊपर दिए अलग-अलग टूल का प्रयोग कर आप कोई लिंक या यु ट्यूब या अन्य साईट से कोई वीडियो भी अपने पोस्ट में लगा सकते हैं…

अलग-अलग साइज़ के फ़ॉन्ट्स कैसे चुने

अपनी पसंद का फॉण्ट साइज़ चुनने के लिए, जब आपकी रचना पूरी तरह से लिखकर तैयार हो जाये तब आप Visual आप्शन चुने, जो कि HTML के बाजु में है…. वहां फॉर्मेट आप्शन पर क्लिक कर अपनी जरुरत के मुताबिक फॉर्मेट चुनने के लिए Heading 1/ Heading 2……. या इसी तरह दिए अन्य विकल्प में से एक चुन लें और apply करें….

विभिन्न रंगों का प्रयोग कैसे करें

यदि आप अपनी रचना को अलग-अलग रंगों से सजाना चाहते हैं तो पहले रचना के उस भाग को सिलेक्ट कर लें और Visual आप्शन में ही text कलर आप्शन से अपना मनपसंद रंग चुनकर apply करें ….

साथ ही कुछ और बातों का भी ध्यान रखे….

  1. हमेशा रचना छापने से पहले प्रूफ रीडिंग जरुर करें, preview विकल्प पर क्लिक कर रचना छापने से पहले ३-४ बार अवश्य पढ़ें कि कोई गलती ना रह गई हो….

  2. भाषा की शुद्धता का खास ख्याल रखें… कई बार भाषा की अशुद्धि से अर्थ का अनर्थ हो जाता है… जैसे अगर मैंने लिखा “मैंने कहाँ कहा जा रहे हो?”…. शायद मुझे लिखना चाहिए था “मैंने कहा, कहाँ जा रहे हो?”…….. इसके लिए जब भी कोई शब्द गलत टाइप हो जाये उस पर क्लिक करे और दिए गए विकल्पों में से सही वाला विकल्प चुन लें….

  3. HTML में दिए more विकल्प का प्रयोग कर आप दो पैराग्राफ के बीच spacing दे सकते हैं….

वैसे तो हमें इस विषय में बहुत अधिक या यूँ कहें पूरी जानकारी नहीं है, फिर भी हमारे पास जो भी जानकारी थी उसे हमने आप लोगों के बीच बांटने का प्रयास किया है…. उम्मीद है कुछ लोगों को तो इससे जरुर सहायता मिलेगी….


| NEXT



Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (11 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

68 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

ritesh agrawal(modi) के द्वारा
September 11, 2011

तमाम कायनात की है शान बेटिया, फिर भी हर बात में है परेशान बेटिया! गाव की गलिओ से चली है पहाड़ो पर, छुकर दिखा चुकी है आसमान बेटिया!! बेटा करे न करे कोई गरज नहीं मगर ,रख लेती है माँ बाप का सम्मान बेटिया! बेटा ये कह रहा अभी हवा चल रही ,और हवाओ से भर रही उड़ान बेटिया!! खिलने के पहले कलिओ को मत मसलिये, हो जाती है हँसते हँसते बलिदान बेटिया! जिसके नहीं है बेटे अफ़सोस न करे, पंहुचा रही है अर्थी को समशान बेटिया!! निशा जो मिट गया तो भटकते रहेगे हम, विश्व के विकास का निशान है बेटिया! मंदिर की आरती है कभी, कभी है घंटिया, ज़रा गौर से सुनो तो आजान है बेटिया!! फसल बेटियों की अब सब उगाइये ,गीता है किसी घर की कही कुरान है बेटिया! जैसे भी हो आ जाती है मिलने के लिए ,बाबुल से नहीं होती कभी अनजान बेटिया!! नया कुछ तो कर रही है जहाँ के लिए, परिवार की बन चुकी पहचान बेटिया! रितेश अग्रवाल(मोदी) एडवोकेट एवम सदस्य जिला सलाहकारी समिति पी सी & पी एन डी टी एक्ट कमेटी जिला नरसिंगपुर म.प्र.

Eloise के द्वारा
May 25, 2011

That’s rlelay shrewd! Good to see the logic set out so well.

Beyonce के द्वारा
May 25, 2011

I’m impressed! You’ve magaend the almost impossible.

abodhbaalak के द्वारा
October 24, 2010

aditi ji, rajkamal ji has recommended to see ur blog on how to write blog, i must say, you have helped lot of new bloggers to write blog effectively. unfortunately, i joined this blog once u have stop sending ur post. hope 2 see ur post again

MANAV के द्वारा
July 30, 2010

SORRY अदिति जी आप कब आओगी????????????

MANAV के द्वारा
July 30, 2010

अदिति तुम कब आओगी??????????????

Manoj Kumar Singh Mayank के द्वारा
July 27, 2010

Aditi Ji, Namaskar I am not a new blogger.I have published 13 blogs at jagranjunction.com. still i am facing many problems related to blogging. you are doing well by instructig new comers about the art and crft of blogging. my main problem is that i compose and edit my blogs at my gprs enabled nokia mobile.which doesnt support a lots of features. i will be grateful to you if you can solve my problems. good writings. keep it up.

    Elouise के द्वारा
    May 25, 2011

    I thank you humbly for sharing your wdsiom JJWY

Mrs. P. Sudha Rao के द्वारा
July 23, 2010

मैं अपनी कुछ कवितायेँ आपके ब्लॉग में लिखना चाहती हूँ इस के लिए मुझे क्या करना चाहिए कृपया मार्ग दर्शन करे मैंने कुछ कवितायेँ mypoemsinhindi.blogspot.com मैं लिखी हैं.मेरा पूर्ण परिचय भी दिया गया है. कृपया पत्रोतर अवश्य दें भवदीय श्रीमती पी.सुधा राव

R K KHURANA के द्वारा
July 19, 2010

प्रिय अदिति जी, क्षमा करना एक बात पूछना रह गयी थी यहाँ जो सिमिलर पोस्ट में रचनाये आती हैं वो कैसे आती हैं ? कृपया शंका का समाधान करें ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Arvind Pareek के द्वारा
    July 21, 2010

    प्रिय श्री खुराना जी, मेरे विचार से यह आपके द्वारा दिए गए tag शब्‍दों पर निर्भर होता है । यदि आपके टैग शब्‍द किसी अन्‍य पोस्‍ट के टैग शब्‍द से मिलते हैं तो वह पोस्‍ट यहां सिमिलर आर्टिकल के रूप में प्रदर्शित होगी । अरविन्‍द पारीक

    R K KHURANA के द्वारा
    July 22, 2010

    प्रिय अरविन्द जी, यह टैग शब्द क्या है ! हम जो शीर्षक देते है उसके अनुसार तो सिमिलर अर्तिक्ले में रचनाये नहीं आ रही ! टैग अलग से बनाना पड़ता है क्या ? कृपया विस्तार से बताएं ! धन्यवाद राम कृष्ण खुराना

R K KHURANA के द्वारा
July 19, 2010

प्रिय अदिति जी, आपने बहुत अच्छी जानकारी दी है ! मैंने भी आपसे यही पूछा था और आपने उसका उत्तर भी दिया था परन्तु इस लेख से विस्तार में जानकारी मिली है ! परन्तु मेरी कुछ शंकाएं अभी भी है ! कृपया हो सके तो उत्तर दें ! १. क्या यदि हम आफ लाइन टाईप करते हैं तो भी विसुअल का प्रयोग कर सकते हैं ! क्या इस प्रकार से भी फाँट और साईज बदला जा सकता है ? २. क्या सीधा add पोस्ट पर टाईप करके एक से अधिक ड्राफ्ट सेव रखे जा सकते हैं ? पूरी जानकारी देने के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

rajkamal के द्वारा
July 15, 2010

अदिति जी ..एक जगह आपने कहा था की मेरी एक टिपण्णी आपको अच्छी नहीं लगी … उसके बारे में यह कहना चाहता हू की मेरी वोह पोस्ट बेशक सबके लिए थी … लेकिन उसको पड़ा तो बस तीन ही लोगो ने था … हाँ मुझसे यह गलती जरुर हुई है की मैने तीसरे शख्श निखिल जी का नाम नहीं लिया … अब जब उसको पड़ा ही कुलमिला कर सर्फ तिन ही लोगो ने तो बाकी के बारे में में क्या जानू… कोई अगर अपना कीमती समय निकल कर मेरे लिखे हुए को पड़ता है … फिर चाहे वोह कुछ भी कहता हो ..मेरे लिए तो उसका कहा मायने रखता ही है … मैं उसका शुक्रगुज़ार हूँगा न की एहसानफरामोश …. वेसे मेरे हर लिखे लेख को २-४ लोग ही पड़ते है … तो क्या मैं यह सोच कर लिखना ही छोड़ दू …. शायद नहीं …

    aditi kailash के द्वारा
    July 16, 2010

    टिप्पणी हमें अच्छी नहीं लगी ऐसी बात नहीं थी, बस आपने कुछ गलत तथ्य पेश किये थे…. हम तो उस बात को उसी समय ही भूल चुके थे…. ऐसी बात नहीं है की आपके लेखों को लोग पढ़ते नहीं है… देखिये आपका अब हर दूसरा लेख फीचर हो रहा है…. आप थोडा फोर्मेटिंग पर ध्यान दें, बहुत बड़ा लेख ना लिखे और हौसला मत हारिये, धीरे धीरे लोग पढना चालू भी कर देंगे…. लिखना मत छोडिये…. आपको शुभकामनायें….

sapan yagyawalkya के द्वारा
July 15, 2010

ब्लॉग लेखन के लिए वाकई काफी उपयोगी जानकारी है.विश्वास है,भविष्य में भी यह क्रम चलता रहेगा.

    aditi kailash के द्वारा
    July 16, 2010

    सपन जी, आपके प्रोत्साहन के लिए आभार….

chaatak के द्वारा
July 15, 2010

अदिति जी, अच्छी जानकारी दी आपने, खुराना चाचा आपको टीचर जी ऐसे ही थोड़ी न कहते हैं| क्रम बदस्तूर जारी रखिये|

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    आपके प्रोत्साहन के लिए आभार….

rajkamal के द्वारा
July 14, 2010

अच्छे ब्लॉग के लिए एक अच्छा दिमाग और ऊँची सोच भी चाहिए होती है .. अगर हो सके तो कभी इस पर भी विस्तार से लिखे .. ओह ..एक बात तो में भूल ही गया .. लेडी लक ………… अब देखिये ने मैने अपने प्यार पर आनलाइन लेख लिखा तो वोह फीचर्ड हो गया .. जिन पोस्ट्स को कई दिनों में लिखा वोह ठन्डे बस्ते में चले गए …

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    वो समझाना आसान नहीं है… आपकी पोस्ट फीचर होने के लिए बधाई…. इसी तरह लिखते रहिये…

    Flossy के द्वारा
    May 25, 2011

    Home run! Great slugging with that asnewr!

    Kethan के द्वारा
    May 25, 2011

    Hey, sublte must be your middle name. Great post!

kmmishra के द्वारा
July 14, 2010

अदिति जी आपके ब्लाग पर टिप्पणियों की संख्या 1000 पार गई । 1000 रन पूरे करने के लिये बहुत बहुत बधाई । सचमुच नये ब्लागरों के लिये तकनीकि दृष्टि से महत्वपूर्ण जानकारी दी है आपने । आप तो जानती ही हैं एक फोटो लगाने में मुझे कितनी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था । आभार ।

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    मोहन जी, प्रोत्साहन और बधाई के लिए आभार…. हमें पता है आपको १००० के रिकार्ड से ख़ुशी हुई…. टिप्पणियों की संख्या के बारे में यहीं कहेंगे कि, ये हमारे पाठकों का स्नेह है जो टप-टप कर टपक रहा है… और इसकी एक-एक बूंद से कुछ लोगों का दिल जल रहा है (जैसा कि कई लोगों ने इसके बारे में पुराण भी लिख दिए)…. पर उन्हें कौन समझाएं कि बिन मांगे मोती मिले, मांगे मिले ……..

    rajkamal के द्वारा
    July 15, 2010

    मिश्र जी मुझको तो 1000 से ज्यादा 786 से खुशी हुई थी … और अब आगे 1786 पर होगी …..

soni garg के द्वारा
July 14, 2010

प्यारी अदिति जी, कृपया मेरी मदद करे आज सुबह से जो भी प्रतिक्रिया मेरे ब्लॉग पर आ रही है वो मेरी इ मेल आई डी पर नहीं आ रही जबकि मैंने तो अपना आई डी भी नहीं बदला वैसे मैं जागरण जक्शन को मेल करने वाली थी लेकिन आपके ब्लॉग पर नज़र पढ़ी तो सोचा पहले आप से ही इसका samaadhaan jaan liya jaye क्या इसका koi samaadhaan आपके पास है ?? lo ab translation bhi band ho gai . ……….koi to kuch karo hey jagran waalo zara idhar bhi nazar daalo ………

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    सोनी जी, आज इस वेबसाइट में कुछ परेशानी थी, हम भी काफी देर से ऑनलाइन होने की कोशिश कर रहे थे, पर अब जा कर हो पाए…. कल तक शायद सब पहले जैसा हो जाये…

आर.एन. शाही के द्वारा
July 14, 2010

नए ब्लाँगर्स के लिये जानकारियाँ बहुत ही उपयोगी हैं अदिति जी, धन्यवाद्…… आर.एन. शाही ।

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    प्रोत्साहन के लिए आभार….

allrounder के द्वारा
July 14, 2010

अच्छी जानकारियां देने के लिए धन्यबाद ! मैं इन चीजों के प्रयोग अपने लेख मैं नहीं करता, किन्तु अब कोशिश करूँगा इनका प्रयोग करूँ, आपके लस लेख के मदद से !

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    अच्छा लगा जानकार कि आपको इस लेख से मदद मिलेगी…. हमारा इस लेख को लिखने का मकसद ही लोगों की मदद करना था…

    Marden के द्वारा
    May 25, 2011

    Thanks for shinarg. Always good to find a real expert.

parveensharma के द्वारा
July 14, 2010

अदिति जी मार्गदर्शन के लिए आभार….. और मेरी डिमांड को पूरा करने का शुक्रिया….वैसे मैं blogstar कांटेस्ट का विजेता आपको मान रहा था….बहरहाल. पुरस्कार चाहे भतीजी को मिले या चाचा को…घर की ही तो बात है..

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    आपके स्नेह के लिए शुक्रिया…. अभी भी हम विजेता ही हैं, इतने सारे लोगों का स्नेह जो मिल रहा है, इससे बड़ा इनाम और क्या हो सकता है…… आपके प्रश्नों का जवाब हमने वहां पर भी दे दिया था, शायद आपने देखा नहीं हो…

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    बहुत ही उपयोगी जानकारी…. उम्मीद है कई लोग लाभान्वित होंगे….

    Fannie के द्वारा
    May 25, 2011

    TYVM you’ve solved all my prolbmes

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    आपका पुनः आभार….

राजीव तनेजा के द्वारा
July 14, 2010

जानकारी भरा आलेख… वैसे मैं ब्लॉग लिखने के लिए “windows live writer ” टूल का इस्तेमाल करता हूँ…इस पर लिखने के लिए आपका नैट से जुड़ा होना ज़रुरी नहीं है…आप ऑफ लाइन मोड में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं| हाँ!…पोस्ट लिखने के बाद उसे पब्लिश करने के लिए आन लाइन होना ज़रुरी है| जागरण जंक्शन के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं या नहीं इसका मुझे ज्ञान नहीं है लेकिन live writer se likh kar बाद में उसके कापी-पेस्ट कर के जहाँ मर्ज़ी पोस्ट किया जा सकता है…जागरण जंक्शन पर भी | इस टूल से वो सभी कुछ किया जा सकता है जो ब्लॉग लिखने के लिए बहुत ज़रुरी है जैसे…रंगों का चयन …आडियो-वीडियो जोड़ना…फॉण्ट का साईज छोटा-बड़ा करना…ये नैट पर मुफ्त में उपलब्ध है| इसका एक फायदा ये भी है कि आप इस पर जितने चाहें उतने ब्लॉग जोड़ सकते हैं…और बारी-बारी से सभी पर अपनी पोस्ट को पब्लिश कर सकते हैं…और हाँ…अगर आपके पास ऑफ लाइन मोड में हिंदी लिखने का जुगाड नहीं है तो आप इसे गूगल की साईट से hindi transliteration tool को मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं…इसे इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है….उसके बाद बाद हिंदी में चैट वगैरा भी कर पाएंगे …अगर कोई दिक्कत हो तो आप मुझे rajivtaneja2004@gmail.com पर मेल भी भेज सकते हैं

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    राजीव जी, आपने बहुत ही अच्छी जानकारी दी…. आपका आभार….

    Bella के द्वारा
    May 25, 2011

    IJWTS wow! Why can’t I think of tihngs like that?

Ramesh bajpai के द्वारा
July 14, 2010

अदिति जी जो लिखा था पहले गायब हो गया हमारे कम की बात बताने का शुक्रिया

    aditi kailash के द्वारा
    July 15, 2010

    प्रोत्साहन के लिए आपका आभार…

aditi kailash के द्वारा
July 14, 2010

topic of the week



latest from jagran